Barabanki News: pradesh k liye model bnega kursi road :-

4.9/5 - (73 votes)

Barabanki News: प्रदेश के लिए मॉडल बनेगा कुर्सी रोड औद्योगिक क्षेत्र

निंदूरा/बाराबंकी barabanki। कुर्सी रोड स्थित औद्योगिक क्षेत्र में करीब एक दशक से प्रस्तावित फायर स्टेशन के लिए सोमवार को भूमि पूजन हुआ। मुख्य अतिथि विधायक साकेंद्र प्रताप वर्मा ने यूपीसीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी मयूर महेश्वरी, अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी/विशेष सचिव मुख्यमंत्री शशांक त्रिपाठी व आईआईए चेयरमैन प्रमित सिंह ने औद्योगिक क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया और बैठक कर प्रदेश के लिए कुर्सी रोड औद्योगिक क्षेत्र को मॉडल बनाने एवं सूत मिल में उद्योग लगाने के लिए जमीन मुहैया कराने का भी आश्वासन दिया।

kursi road (barabanki)

मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने ऑर्गेनिक इंडिया के सभागार में उद्यमियों के साथ संवाद में कहा कि कुर्सी रोड औद्योगिक क्षेत्र को मॉडल इंडस्ट्रियल एरिया के रूप में विकसित किए जाने का लक्ष्य तय किया गया है। बैठक में सूत मिल को आईटी पार्क के रूप में विकसित किए जाने के बजाय यूपी इंवेस्टर्स समिट में आए निवेशों की स्थापना के लिए भूमि आवंटन पर भी चर्चा हुई। इस पर उन्होंने आश्वस्त किया कि ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के उद्यमियों को वांछित श्रेणी की औद्योगिक भूमि सूत मिल में उपलब्ध कराई जाएगी।

भवन, सड़क निर्माण कार्यों का जायजा (barabanki)

इसके साथ ही उन्होंने प्रशासनिक भवन, सड़क निर्माण कार्यों का जायजा लिया। सड़कों की दोनों पटरी पर हरियाली बढ़ाने, प्रवेश द्वार को सुंदर बनाने, रोड नंबर तीन पर निर्माणाधीन सार्वजनिक शौचालय को स्थानांतरित करने, 503 स्ट्रीट लाइटें लगाने, बूम बैरियर व सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए। इस मौके पर संदीप चंद्रा, पीके कौशिक, कपिल सिंधवानी, राजीव कुमार, सुधाकर यादव, अल्केश चंद सोती, अखिलेश कुमार अग्रवाल, कैप्टन राजेश तिवारी, जीएम डीआईसी शिवानी सिंह, सुधीर गर्ग, सहायक उपायुक्त आलोक सिंह, पीपी सिंह आदि मौजूद रहे।

वैदिक मंत्रोच्चर के बीच भूमि पूजन kursi road barabanki


औद्योगिक क्षेत्र के लिए फायर स्टेशन का भूमि पूजन वैदिक मंत्रोच्चार के बीच हुआ। विधायक साकेंद्र प्रताप वर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 21वीं सदी के आत्मनिर्भर भारत बनाने का जो यज्ञ चल रहा है, उसमें बड़े उद्योगों की भूमिका जितनी अहम है, उतना ही महत्व सूक्ष्म, लघु और मध्यम श्रेणी के उद्यमियों का भी है। युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने में इनकी भूमिका महत्वपूर्ण होगी।


Leave a comment