CM YOGI ADITYANATH ne diye nirdesh

5/5 - (2 votes)

UP News : CM YOGI ने दिए सख्त निर्देश, चेहल्लूम पर न हो हथियारों का प्रदर्शन,गो तस्करी में करें कठोर कार्रवाई


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ CM YOGI
ने प्रदेश में अगामी दिनों में आने वाले त्योहार व पर्व पर कानून-व्यवस्था को चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों से आमजन के दरवाजे खुले रखने को कहा है, ताकि उनके समस्याओं का तत्काल समाधान किया जा सके।

CM YOGI – अधिकारियों से आमजन के दरवाजे खुले रखने को कहा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ CM YOGI ने प्रदेश में अगामी दिनों में आने वाले त्योहार व पर्व पर कानून-व्यवस्था को चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों से आमजन के दरवाजे खुले रखने को कहा है, ताकि उनके समस्याओं का तत्काल समाधान किया जा सके। उन्होंने फील्ड में तैनात अधिकारियों को संवेदनशीलता के साथ जनशिकायतों का निस्तारण करने पर जोर देते हुए जिला स्तर जर जनसुनवाई की व्यवस्था को प्रभावी बनाने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने चेहल्लूम पर निकलने वाले जुलूस में हथियारों का प्रदर्शन न होने देने का भी निर्देश दिया है। CM YOGI

www.indiatvnews.com › topic › chehllum-ceremonyChehllum Ceremony Latest News, Photos and Videos – India TV News

CM YOGI

मुख्यमंत्री सोमवार को सभी मंडलायुक्त, डीएम, एडीजी,आईजी. पुलिस कमिश्नर, एसपी समेत सभी जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि त्योहारों का यह समय कानून-व्यवस्था के दृष्टिगत संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अगले दिन चेहल्लुम का जुलूस निकलेगा। इस दौरान हथियारों का प्रदर्शन न होने पाए। त्योहारों पर सभी जनपदों में विद्युत की निर्बाध आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश देते हुए उन्होंने गोकशी और गो तस्करी के मामलों कठोरतम कार्रवाई करने को कहा है। मुख्यमंत्री CM YOGI ने तहसील स्तर पर अभियान चलाकर वरासत के मामलों की समीक्षा करने और अवैध बस और टैक्सी स्टैंडों को हटाने के लिए अभियान चलाने का भी निर्देश दिया है। इस काम में पुलिस, जिला प्रशासन, नगर निकाय और विकास प्राधिकरणों को समन्वय बना कर कार्रवाई करने को कहा गया है।- CM YOGI


NEWS 2


Barabanki News: बड़ी राहत के आसार, विस्थापित होंगे 2615 परिवार

This image has an empty alt attribute; its file name is WhatsApp-Image-2023-08-29-at-02.37.59.jpg

बाराबंकी। सरयू में हर साल आने वाली बाढ़ से प्रभावित होने वाले 2615 परिवारों को चिन्हित कर लिया गया है। इन परिवारों को प्रभावित क्षेत्र से अलग बसाने के लिए प्रशासन जमीन खरीदने की तैयारी में है। एक बाढ़ पीड़ित परिवार को 100 वर्ग मीटर जमीन का पट्टा दिया जाएगा। लेकिन यह विस्थापन उनकी लिखित सहमति के बाद होगा।

CM YOGI ON BBK

जिले में सरयू नदी की बाढ़ से रामनगर, सिरौलीगौसपुर और रामसनेहीघाट तहसील क्षेत्र के गांव करीब सौ प्रभावित होते हैं। हर साल बाढ़ का रुख अलग-अलग क्षेत्र में अलग-अलग होता है। लेकिन रामनगर क्षेत्र में गणेशपुर चल्हारी बांध के पास नदी किनारे बसे 27 गांव में बाढ़ भयंकर तबाही मचाती है। हर साल बरसात में उजाड़ना और बाढ़ समाप्त होने के बाद बसना इन गांवों के लोगों की तकदीर बन गई है।

बतनेरा, सुंदरनगर, बबुरीगांव, जमका, परशुरामपुर फाजिलपुर, खुज्जी आदि गांव में इस बार भी बाढ़ तबाही की दास्तान लिख रही है। सरसंडा गांव का पंचायत भवन तो खुज्जी गांव का प्राथमिक विद्यालय बाढ़ में बह गया है। अधिकारियों के अनुसार बाढ़ से बचने और राहत बांटने में हर साल करोड़ों रुपए खर्च होते है। इसके बाद भी हजारों परिवारों को मुसीबत झेलनी पड़ती है। इसी को ध्यान में रखते हुए विस्थापन की नई कार्ययोजना बनाई गई है।

SDM ANURAG & CM YOGI

navbharattimes.indiatimes.com › state › uttarनेपाल से छूटे पानी से सरयू में बाढ़ के भीषण हालात, बाराबंकी …

रामनगर के एसडीएम अनुराग सिंह बताते हैं कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के 2615 परिवार चिन्हित कर लिए गए हैं। इन सभी परिवारों को बांध के इस पार के गांव और खाली पड़ी जमीनों में बसाया जाएगा। इसके लिए तहसील प्रशासन आपदा के वर्ष 2012 में संशोधित हुए नियमों के तहत जमीन खरीदेगा। जमीन की खरीदारी सरकारी रेट के अनुसार की जाएगी। न केवल निजी भूमि खरीदी जाएगी बल्कि दान में दी जाने वाली व ग्राम समाज की जमीन भी इसमें शामिल है। एसडीएम ने बताया कि इस कार्य योजना पर अमल शुरू हो गया है। 118 परिवारों को 100 वर्ग फीट का पट्टा आवंटित कर दिया गया है। पट्टा आवंटन की सूची जिला प्रशासन को भेजी गई है।

मकान के साथ कैटल शेड व पार्क भी
प्रशासन ने सरकार को भेजे गए प्रस्ताव में बाढ़ पीड़ितों के लिए 100 वर्ग फीट मकान की जमीन के अलावा कैटल शेड और पार्क उपलब्ध कराने की बात भी कही है। एसडीएम रामनगर अनुराग सिंह ने बताया कि मकान बनने के बाद बाढ़ पीड़ितों को बिजली और पानी का मुफ्त कनेक्शन देने की भी योजना है


READ MORE :-

MY WEB= http://barabankinewstoday.com

thanks4visit my website


AMP Page Builder

Toggle panel: AMP Page Builder

Start the AMP Page Builder

WPCode Page Scripts

Toggle panel: WPCode Page Scripts

Custom AMP Editor

Toggle panel: Custom AMP Editor

 Use This Content as AMP Content

If you want to add some special tags, then please use normal HTML into this area, it will automatically convert them into AMP compatible tags. Add MediaVisualTextFile Edit View Insert Format Tools Table ParagraphCopy The Content-apple-system13pt 

  • Post
  • Block

Summary

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ CM YOGI ने प्रदेश में अगामी दिनों में आने वाले त्योहार व पर्व पर कानून-व्यवस्था को चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों से आमजन के दरवाजे खुले रखने को कहा है, ताकि उनके समस्याओं का तत्काल समाधान किया जा सके।

CM YOGI – अधिकारियों से आमजन के दरवाजे खुले रखने को कहा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ CM YOGI ने प्रदेश में अगामी दिनों में आने वाले त्योहार व पर्व पर कानून-व्यवस्था को चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों से आमजन के दरवाजे खुले रखने को कहा है, ताकि उनके समस्याओं का तत्काल समाधान किया जा सके। उन्होंने फील्ड में तैनात अधिकारियों को संवेदनशीलता के साथ जनशिकायतों का निस्तारण करने पर जोर देते हुए जिला स्तर जर जनसुनवाई की व्यवस्था को प्रभावी बनाने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने चेहल्लूम पर निकलने वाले जुलूस में हथियारों का प्रदर्शन न होने देने का भी निर्देश दिया है। CM YOGI

CM YOGI

मुख्यमंत्री सोमवार को सभी मंडलायुक्त, डीएम, एडीजी,आईजी. पुलिस कमिश्नर, एसपी समेत सभी जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि त्योहारों का यह समय कानून-व्यवस्था के दृष्टिगत संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अगले दिन चेहल्लुम का जुलूस निकलेगा। इस दौरान हथियारों का प्रदर्शन न होने पाए। त्योहारों पर सभी जनपदों में विद्युत की निर्बाध आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश देते हुए उन्होंने गोकशी और गो तस्करी के मामलों कठोरतम कार्रवाई करने को कहा है। मुख्यमंत्री CM YOGI ने तहसील स्तर पर अभियान चलाकर वरासत के मामलों की समीक्षा करने और अवैध बस और टैक्सी स्टैंडों को हटाने के लिए अभियान चलाने का भी निर्देश दिया है। इस काम में पुलिस, जिला प्रशासन, नगर निकाय और विकास प्राधिकरणों को समन्वय बना कर कार्रवाई करने को कहा गया है।- CM YOGI


NEWS 2


Barabanki News: बड़ी राहत के आसार, विस्थापित होंगे 2615 परिवार

बाराबंकी। सरयू में हर साल आने वाली बाढ़ से प्रभावित होने वाले 2615 परिवारों को चिन्हित कर लिया गया है। इन परिवारों को प्रभावित क्षेत्र से अलग बसाने के लिए प्रशासन जमीन खरीदने की तैयारी में है। एक बाढ़ पीड़ित परिवार को 100 वर्ग मीटर जमीन का पट्टा दिया जाएगा। लेकिन यह विस्थापन उनकी लिखित सहमति के बाद होगा।

CM YOGI ON BBK

जिले में सरयू नदी की बाढ़ से रामनगर, सिरौलीगौसपुर और रामसनेहीघाट तहसील क्षेत्र के गांव करीब सौ प्रभावित होते हैं। हर साल बाढ़ का रुख अलग-अलग क्षेत्र में अलग-अलग होता है। लेकिन रामनगर क्षेत्र में गणेशपुर चल्हारी बांध के पास नदी किनारे बसे 27 गांव में बाढ़ भयंकर तबाही मचाती है। हर साल बरसात में उजाड़ना और बाढ़ समाप्त होने के बाद बसना इन गांवों के लोगों की तकदीर बन गई है।

बतनेरा, सुंदरनगर, बबुरीगांव, जमका, परशुरामपुर फाजिलपुर, खुज्जी आदि गांव में इस बार भी बाढ़ तबाही की दास्तान लिख रही है। सरसंडा गांव का पंचायत भवन तो खुज्जी गांव का प्राथमिक विद्यालय बाढ़ में बह गया है। अधिकारियों के अनुसार बाढ़ से बचने और राहत बांटने में हर साल करोड़ों रुपए खर्च होते है। इसके बाद भी हजारों परिवारों को मुसीबत झेलनी पड़ती है। इसी को ध्यान में रखते हुए विस्थापन की नई कार्ययोजना बनाई गई है।

SDM ANURAG & CM YOGI

रामनगर के एसडीएम अनुराग सिंह बताते हैं कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के 2615 परिवार चिन्हित कर लिए गए हैं। इन सभी परिवारों को बांध के इस पार के गांव और खाली पड़ी जमीनों में बसाया जाएगा। इसके लिए तहसील प्रशासन आपदा के वर्ष 2012 में संशोधित हुए नियमों के तहत जमीन खरीदेगा। जमीन की खरीदारी सरकारी रेट के अनुसार की जाएगी। न केवल निजी भूमि खरीदी जाएगी बल्कि दान में दी जाने वाली व ग्राम समाज की जमीन भी इसमें शामिल है। एसडीएम ने बताया कि इस कार्य योजना पर अमल शुरू हो गया है। 118 परिवारों को 100 वर्ग फीट का पट्टा आवंटित कर दिया गया है। पट्टा आवंटन की सूची जिला प्रशासन को भेजी गई है।

मकान के साथ कैटल शेड व पार्क भी
प्रशासन ने सरकार को भेजे गए प्रस्ताव में बाढ़ पीड़ितों के लिए 100 वर्ग फीट मकान की जमीन के अलावा कैटल शेड और पार्क उपलब्ध कराने की बात भी कही है। एसडीएम रामनगर अनुराग सिंह ने बताया कि मकान बनने के बाद बाढ़ पीड़ितों को बिजली और पानी का मुफ्त कनेक्शन देने की भी योजना है


Leave a comment